Delhi: नींद और नशे की गोलियां अल्प्राजोलम का कर रहे थे अवैध धंधा, 7.33 लाख गोलियों के साथ पांच गिरफ्तार

 

पकड़े गए आरोपियों की पहचान बुलंदशहर निवासी राजीव कुमार (30), हापुड़ निवासी प्रमोद कुमार (30), प्रेम चंद (28), लोनी, गाजियाबाद निवासी जगदीप (45) और

नशे और नींद की गोलियों का धंधा करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का उत्तर-पूर्वी जिले के स्पेशल स्टाफ ने खुलासा किया है। पुलिस ने इस मामले में दिल्ली, जेवर और बुलंदशहर से पांच आरोपियों को दबोचा है।

 

 

आरोपियों के पास से 7.33 लाख गोलियों के अलावा वारदात में इस्तेमाल दो कारें बरामद की हैं। पकड़े गए आरोपियों की पहचान बुलंदशहर निवासी राजीव कुमार (30), हापुड़ निवासी प्रमोद कुमार (30), प्रेम चंद (28), लोनी, गाजियाबाद निवासी जगदीप (45) और राहुल पाल (34) के रूप में हुई है। पकड़े गए आरोपियों में से एक राजीव कुमार एक नामी फार्मा कंपनी में एरिया सेल्स मैनेजर है। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है।

 

 

उत्तर-पूर्वी जिला पुलिस उपायुक्त डॉ. जॉय टिर्की ने बताया कि स्पेशल स्टाफ को सूचना मिली थी कि कुछ लोग नींद और नशे की गोलियां अल्प्राजोलम का अवैध रूप से धंधा कर रहे हैं। इस बीच इंस्पेक्टर राहुल अधिकारी, एसआई सुखबीर, सुशील रावत व अन्य की टीम को गैंग के आने को जानकारी मिली। सूचना के बाद टीम ने एमसीडी टोल पुश्ता रोड, सोनिया विहार के पास जाल बिछा दिया। इस बीच बलेनो कार सवार दो युवकों को रोका गया। इनकी कार की तलाशी लेने पर 2.40 लाख गोलियां मिलीं। पुलिस ने कार सवार राहुल और जगदीप को गिरफ्तार कर लिया। राहुल दवा विक्रेता है, जबकि जगदीप उसके साथ धंधा करता है।

दोनों से पूछताछ के बाद पुलिस ने जेवर से प्रेम चंद और प्रमोद को गिरफ्तार कर इनके पास से 4.93 लाख गोलियां बरामद की गईं। बाद में दवा गिरोह के मुख्य आरोपी राजीव कुमार को बुलंदशहर से गिरफ्तार किया गया। आरोपियों के पास से बरामद गोलियां कुल 88 किलो थीं। जांच के दौरान पता चला कि यह दवाइयां डॉक्टर के पर्चे के बगैर नहीं मिलती हैं।

 

जान से मारने की धमकी देकर फाइनेंसर के घर पर गोलीबारी

मंगोलपुरी इलाके में बुधवार रात बदमाशों ने जान से मारने की धमकी देकर एक फाइनेंसर के घर पर गोलीबारी कर दी। गनीमत रही कि गोली किसी को नहीं लगी। पीड़ित की पहचान आकाश के रूप में हुई है। पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस को दी शिकायत में आकाश ने बताया कि वह फाइनेंस का काम करता है। 23 अप्रैल की रात वह पहली मंजिल पर सो रहे थे, जबकि परिवार के अन्य सदस्य भूतल पर थे। देर रात 1.50 बजे गोली चलने की आवाज सुनकर उनकी आंख खुली। वह कमरे से निकलकर बालकनी पर आए। उन्होंने देखा कि एक शख्स उनका नाम लेकर गाली गलौज कर रहा था। साथ ही बाहर निकलने पर गोली मारने की धमकी दे रहा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

प्रमुख खबरे

hi Hindi
X
error: Content is protected !!
सिर्फ सच टीवी भारत को आवश्यकता है पुरे भारतवर्ष मे स्टेट हेड मंडल ब्यूरो जिला ब्यूरो क्राइम रिपोर्टर तहसील रिपोर्टर विज्ञापन प्रतिनिधि तथा क्षेत्रीय संबाददाताओ की खबरों और विज्ञापन के लिए सम्पर्क करे:- 8764696848,इमेल [email protected]