पेपरलीक मास्टरमाइंड का घर कब्जे में लेने की तैयारी:जेडीए ने 7 दिन का आखिरी कानूनी नोटिस भेजा, नीलाम किया जाएगा

सीनियर टीचर भर्ती पेपरलीक प्रकरण के मास्टरमाइंड भूपेन्द्र सारण के मकान की जेडीए कब्जे में   लेने की तैयारी कर रहा है। जेडीए ने इस संबंध में सारण और उसके भाई गोपाल सारण के नाम पर एक कानूनी नोटिस जारी किया है। इस नोटिस में मकान मालिक को जेडीए में 19.11 लाख रुपए की राशि 7 दिन में जमा करवाने का अंतिम समय दिया है। अगर सात दिन में राशि जमा नहीं करवाते तो मकान को कुर्की करते हुए उसे नीलाम किया जाएगा।

जेडीए के एन्फोर्समेंट विंग के चीफ रघुवीर सैनी ने बताया- आरोपी के घर को कुर्क करके नीलाम करने के अधिकार हमें प्राप्त है। उन्होंने बताया- 13 जनवरी को सारण के जयपुर में अजमेर रोड रजनी विहार स्थित मकान का अवैध हिस्सा ढहाया था। इस हिस्से को तोड़ने पर जेडीए के कुल 19 लाख 11 हजार 355 रुपए का खर्चा हुआ था। इस खर्चे की वसूली के लिए जेडीए ने 23 जनवरी को डिमांड नोटिस जारी करते हुए सारण और उनके भाई को ये रकम जमा करवाने के लिए कहा था।

पैसे जमा नहीं करवाने पर जारी किया कानूनी नोटिस
सैनी ने बताया कि डिमांड नोटिस के बाद भी पैसा जमा नहीं करवाने पर 30 जनवरी को फिर से भूपेन्द्र सारण और गोपाल सारण को नोटिस जारी किया। इस नोटिस अंतिम 7 दिन का समय दिया गया है। इसके बाद भी अगर ये लोग पैसे जमा नहीं करवाते हैं। जेडीए कार्रवाई करते हुए उस जमीन को कुर्की करते हुए उसकी नीलामी की प्रक्रिया अपनाई जाएगी।
जेडीए ने सारण के मकान के अवैध हिस्से को तोड़ने के लिए तीन दिन  कार्रवाई की थी। तीन मंजिला इस मकान में फ्रंट एरिया में 15 फीट का हिस्सा, जबकि पीछे 8.3 फीट का हिस्सा तोड़ा गया था। मकान पर कार्रवाई से पहले सारण परिवार की तरफ से जेडीए की ट्रिब्यूनल कोर्ट और हाईकोर्ट में इसे बचाने के लिए याचिका भी लगाई थी, लेकिन दोनों ही कोर्ट में इन याचिकाओं को खारिज कर दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

प्रमुख खबरे

hi Hindi
X
error: Content is protected !!
सिर्फ सच टीवी भारत को आवश्यकता है पुरे भारतवर्ष मे स्टेट हेड मंडल ब्यूरो जिला ब्यूरो क्राइम रिपोर्टर तहसील रिपोर्टर विज्ञापन प्रतिनिधि तथा क्षेत्रीय संबाददाताओ की खबरों और विज्ञापन के लिए सम्पर्क करे:- 8764696848,इमेल [email protected]